चमोली के दशोली कथयूड ग्रामसभा के ग्रामीणों की समस्याएं ।

Spread the love

चमोली के दशोली कथयूड ग्रामसभा के ग्रामीणों की समस्याएं  ।   
को अभीतक ना तो प्रधनमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास मिला है ।  सरकार की  सबका साथ सबका विकास की बातें धरातल पर नहीं बल्कि कागजों में नज़र आते हैं। ये कहना है विकास खण्ड दशोली के कथयूड ग्रामसभा के ग्रामीणों का। जी हां इस बात को आईना  दिखता है यह तस्वीर जो किसी से छुपी नहीं है। यह  परिवार की जिंदगी यदि सलामत  है तो वो है भगवान की बदौलत,इस परिवार के स्कूल में पढ़ने वाले  बच्चों को पिछले  दो वर्षों से  छात्रवृत्ति भी नसीब नहीं हुयी है। आपको बता दे कथयूड ग्रामसभा जिला मुख्यालय गोपेश्वर से महज 10-12 किलोमीटर की ही दूरी पर है। लेकिन यहाँ के गरीब ग्रामीणों की स्थिति जस का तस है। हाल  में ही रोशन लाल की बेटी प्रिया सैलानी  
हाई स्कूल में 85% अंक प्राप्त कर अव्वल रही है। लेकिन यह बच्ची अव्वल आने के लिए किन किन मुश्किलों से होकर गुजरी है यह तो प्रिया का परिवार ही जानता है। यह  परिवार एक ही कमरे में अपनी जिंदगी गुजारने को विवश व् मजबूर है। प्रिया ने जो आप बीती बयां की जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जायेंगें। अव्वल अंक प्राप्त करने वाली बच्ची ने श्रमिक मंत्र संवाददाता  को बताया जब खाना बनाते समय उसका कमरा धुंए से भर जाता तो वह बाहर छज्जे पर जाकर पढ़ने चली जाती थी।क्योंकि और कोई कमरा नहीं था जहां वह अपनी पढ़ाई कर सकती। 
अब प्रिया और उसके परिवार को सरकार ही बताये की सरकार की यह बात सबका साथ सबका विकास महज एक कहावत बनकर रह गयी है जिसका सच से दूर दूर  तक कोई रिस्ता नही है। 
श्रमिक मन्त्र न्यूज़ के लिए चमोली से अवतार सिंह पंवार की रिपोर्ट।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *