घंटों तक नही मिली एम्बुलेंस सेवा। 

Spread the love

मरीज को कई घंटों तक नही मिली एम्बुलेंस सेवा। 
दशोली विकासखण्ड के अति सुदूरवर्ती गांव ईरानी से एक बीमार महिला को उसके परिजनों ने 29 किलोमीटर पैदल जोखिम भरे रास्ते से कंधो पर लेकर हॉस्पिटल तक पहुंचाया। निजमुला मोटर मार्ग तक ले आये मरीज के परिजनो ने बताया कि  निजमुला  से 108 पर एम्बुलेंस के लिए फोन किया तो जबाब मिला कि 2 घण्टे बाद सेवा मिल पाएगी। जब 2 घण्टे बाद फोन किया तो जबाब मिला कि एम्बुलेंस उपलब्ध नही है। फिर परिजनों ने प्राइवेट वाहन से ही मरीज को जिला अस्पताल गोपेश्वर पहुँचाया। आपको बताते चले कि ईरानी गाँव चमोली जिले के विकासखण्ड दशोली में स्थित है इस गांव में न तो कोई उचित स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध है न ही मोबाइल नेटवर्क ओर सड़क इतनी खराब है कि पैदल चलना भी मुश्किल है। ऐसे में इन ग्रामीणों ने अपने मरीज को कुर्सी में बैठाकर कंधो के सहारे 29 किलोमीटर दूर पहुँचाया फिर भी सरकारी सेवा के नाम पर एम्बुलेंस भी नसीब नही हो हुयी ।  
चमोली से श्रमिक मंत्र संवाददाता,अवतार सिंह पंवार की ये रिपोर्ट। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *