ड्राइवर-कंडेक्टर के शरीर के चिथड़े उड़े ।

Spread the love

श्रमिक मंत्र :  मंगलवार की शाम ड्राइवर और कंडेक्टर 20 सिलेंडरों से भरी गाड़ी लेकर कंपनी आए थे। वो खुली जगह पर सिलेंडरों को उतार रहे थे कि तभी एक सिलेंडर तेज धमाके के साथ फट गया। हादसा कितना भयानक था, इसका अंदाजा आप यूं लगा सकते हैं कि धमाके के बाद घटनास्थल पर जगह-जगह मांस के लोथड़े बिखरे थे, सिर के बाल मांस के साथ उखड़कर दूर-दूर तक छिटक गए थे। जिसने भी ये मंजर देखा उसका कलेजा कांप गया। मृतकों में 32 वर्षीय चालक नावेद और 20 वर्षीय परिचालक अख्तर शामिल हैं। कमल, शेखर और गौरव नाम के कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हैं।   मोक्षनगरी हरिद्वार में मंगलवार का दिन दो परिवारों के लिए अमंगलकारी साबित हुआ। सिडकुल में स्थित एक फैक्ट्री में तेज धमाके के साथ ऑक्सीजन सिलेंडर फट गया। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसा सुयज ड्रीपलेक्स वॉटर इंजीनियरिंग प्राईवेट लिमिटेड कंपनी में हुआ। जहां ड्राइवर और कंडेक्टर फैक्ट्री में सिलेंडर उतार रहे थे।  ऑक्सीजन सिलेंडर में धमाका हो गया। धमाका इतना जबर्दस्त था कि ड्राइवर-कंडेक्टर के शरीर के चिथड़े हवा में उड़ गए। दीवारें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं, शीशे चटक गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *