प्राथमिकता हिमालय को,बेबी रानी मौर्य

Spread the love

हिमालय संरक्षण को प्राथमिकता,राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ।  
राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने कहा कि हिमालय देश को अमूल्य पर्यावरणीय सेवाएं दे रहा है। हिमालय का संरक्षण हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिये। विकास और संरक्षण एकतरफा नहीं होना चाहिये, हिमालयवासी पर्यावरण और जल बचाकर पूरे देश की सेवा करते हैं इसीलिये इसके बदले में स्थानीय निवासियों की चिन्ता करनी होगी। राज्यपाल ने कहा कि उत्तराखण्ड के संसाधनों को संरक्षित रखते हुए यहाँ की महिलाओं, किसानों, युवाओं की आजीविका और उनकी समृद्वि की राह निकालनी जरूरी है। राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने गुरूवार को वन अनुसंधान संस्थान देहरादून में आयोजित ‘‘हिम संवाद’’ कार्यक्रम के समापन सत्र को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित किया। सेवा इन्टरनेशनल संस्था द्वारा संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा निर्धारित ‘‘सत्त विकास लक्ष्यों’’ में हिमालयी दृष्टिकोण पर विचार मंथन हेतु यह दो दिवसीय सम्मेलन आयोजित किया गया था। राज्यपाल श्रीमती मौर्य ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों की अर्थव्यवस्था में महिलाओं की प्रमुख भूमिका है। हमें यह भी ध्यान देना होगा कि हिमालयी क्षेत्रों में महिलाओं को कैसे परिवर्तन का वाहक बनाया जाय। यहाँ की महिलाएँ स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से एकजुट होकर अत्यंत प्रशंसनीय कार्य कर रही हैं। आवश्यकता इस बात की है कि इस प्रकार के समूहों को अच्छा प्रशिक्षण और अन्य आवश्यक मार्गदर्शन देकर उनके व्यापार और अन्य गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जाय।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *