मौसेरे भाई ने दिनदहाड़े, जिंदा जलाया

Spread the love

मौसेरे भाई ने दिनदहाड़े जिंदा जलाया
फिरोजाबाद,बस स्टैंड गली नंबर 2 निवासी राकेश 40 वर्ष पुत्र विजय सिंह आभूषणों पर नक्काशी का काम करता है,उसकी सर्राफा चौक में दुकान है। वह मंगलवार को दुकान पर काम कर रहा था,लोगों की माने तो उसी दौरान उसकी मौसी का लड़का रोबिन वहां आया। वह संतोष नगर का रहने वाला है। उसने राकेश को ज्वलनशील पदार्थ डाल कर जिंदा आग के हवाले कर दिया। वारदात को अंजाम देकर वह वहां से भाग गया। स्वर्णकार को जलता देख आसपास के दुकानदार व वहां मौजूद लोग हैरत में पड़ गए। लोगों ने एकत्रित हो उसके कपड़ों में लगी आग को बुझाया। लोगों ने उसे गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। पता चलते ही उसके परिवारीजन वहां पहुंच गए। उसकी हालत देख वह लोग घबरा गए। यूपी के फिरोजाबाद के थाना उत्तर क्षेत्र स्थित सर्राफा बाजार में दुकान पर काम कर रहे युवक को उसके मौसेरे भाई ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी। दिनदहाड़े वारदात से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया। गंभीर हालत में जहां से उसे आगरा के लिए रेफर कर दिया गया है। स्वर्णकार राकेश के परिवारीजनों ने बताया उसके मौसेरे भाई रोबिन की पत्नी कुछ ने कुछ दिन पूर्व फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। रॉबिन का कहना है राकेश के कारण ही उसकी पत्नी ने घटना को अंजाम दिया। परिवारीजनों का मानना है इसी कारण रोबिन ने घटना को अंजाम दिया। दिनदहाड़े स्वर्णकार को ज्वलनशील पदार्थ डालकर जिंदा जलाने का पता चलते ही पुलिस के होश उड़ गए। एसपी देहात राजेश कुमार जिला अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायल से पूछताछ की। उसके परिवारीजनों से भी काफी देर तक बात की। एसपी देहात राजेश कुमार ने बताया कि राकेश के ही मौसेरे भाई ने घटना को अंजाम दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *