गिरफ्तार हुई नशे की सौदागर महिला

Spread the love

पुलिस की सख्ती के बावजूद उत्तराखंड में नशीले पदार्थों का कारोबार खूब फलफूल रहा है। ड्रग तस्करी के मामलों में सिर्फ पुरुष ही नहीं महिलाएं भी पकड़ी जा रही हैं। पहाड़ के सीमांत इलाकों में हालात ज्यादा खराब हैं। चिंता की बात ये है कि यहां महिलाएं भी ड्रग्स की तस्करी में लिप्त मिल रही हैं। ऐसा ही मामला चंपावत के लोहाघाट में सामने आया, जहां पुलिस और एसओजी की टीम ने चरस की तस्करी कर रही महिला और उसके साथी युवक को पकड़ लिया। आरोपियों के पास से 3.38 किलोग्रामी चरस मिली है। दोनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में केस दर्ज किया गया है। घटना मंगलवार रात की है। पुलिस और एसओजी की टीम इलाके में चेकिंग कर रही थी। वाहनों की तलाशी ली जा रही थी। देवीधुरा के पास अभियान चल रहा था। इसी दौरान पुलिस को एक गाड़ी देवीधुरा की तरफ जाती दिखी। शक होने पर पुलिस ने गाड़ी को रोक लिया। तलाशी ली गई तो गाड़ी में 3.38 किलोग्राम चरस रखी मिली। गाड़ी में सवार युवक के पास से 2.90 किलोग्राम चरस बरामद हुई। आरोपी का नाम लखविंदर सिंह है, वो खटीमा के झनकट का रहने वाला है। पकड़ी गई महिला का नाम भगवान देवी है, वो किच्छा की रहने वाली है। महिला के पास से पुलिस को 48 ग्राम चरस मिली। दोनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। आपको बता दें कि उत्तराखंड के सीमांत इलाके नशीले पदार्थों की तस्करी के लिए बदनाम रहे हैं। पहाड़ के युवा नशे की गिरफ्त में हैं। महिलाएं भी चरस की तस्करी में पकड़ी जा रही हैं। पुलिस इन इलाकों में लगातार अभियान चला रही है। चेकिंग के दौरान कई किलोग्राम चरस पकड़ी जा चुकी है, पर ड्रग तस्करी का सिलसिला रूक नहीं रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *