देहरादून रेलवे स्टेशन से नहीं चलेंगी ट्रेनें

Spread the love

देहरादून से रेल का सफर करने वाले यात्रियों के लिए आने वाले कुछ महीने तकलीफ भरे हो सकते हैं। दून में 10 नवंबर से 7 फरवरी 2020 तक ट्रेनों का संचालन ठप होने वाला है। इसकी वजह भी जान लें। देहरादून में प्लेटफार्म विस्तारीकरण का काम चल रहा है। जिसकी वजह से ट्रेनों की आवाजाही को कुछ वक्त के लिए रोका जाएगा। निर्माण कार्य की वजह से ट्रेनों का संचालन नहीं होगा। ठेकेदार की तरफ से मिली जानकारी के बाद रेलवे अधिकारियों ने ट्रैफिक ब्लॉक का प्रस्ताव बना दिया है। प्रस्तावित शेड्यूल को रेलवे बोर्ड के पास भेजा गया है। बता दें कि इन दिनों दून रेलवे स्टेशन में पांच नंबर प्लेटफार्म का ट्रैक तैयार हो रहा है। स्टेशन का विस्तार किया जा रहा है। फिलहाल दून स्टेशन में 4 प्लेटफार्म हैं। अब चार नंबर प्लेटफार्म के सामने ही पांचवा प्लेटफार्म बनाया जा रहा है। प्लेटफार्म निर्माण का काम दो साल पहले शुरू हुआ था। पर दिसंबर 2018 में निर्माण कार्य अचानक रुक गया। बाद में नए ठेकेदार को टेंडर दिया गया, अब निर्माण कार्य दोबारा शुरू हो गया है। यार्ड का विस्तार करने, नया ट्रैक तैयार करने और उसे मुख्य ट्रैक से कनेक्ट करने के लिए ट्रेनों का संचालन बंद करना पड़ेगा। ठेकेदार ने 10 नवंबर 2019 से 7 फरवरी 2020 तक का वक्त मांगा है। प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेज दिया गया है। प्रस्ताव के मुताबिक कुछ ट्रेनों को पूरी तरह रद्द रखा जाएगा। जबकि कुछ ट्रेनें देहरादून की बजाय हरिद्वार और नजीबाबाद से संचालित होंगी। ट्रैफिक ब्लॉक का शेड्यूल फाइनल होते ही यात्रियों को इस बारे में सूचना दे दी जाएगी। आपको बता दें कि देहरादून से हर दिन 18 ट्रेनों का संचालन होता है। जिनमें हर दिन 10 हजार यात्री सफर करते हैं। ऐसे में ट्रेन सेवा रद्द होने से हजारों यात्रियो को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। नजीबाबाद के साथ-साथ हरिद्वार और हर्रावाला रेलवे स्टेशनों पर भी दबाव बढ़ेगा।देहरादून से रेल का सफर करने वाले यात्रियों के लिए आने वाले कुछ महीने तकलीफ भरे हो सकते हैं। दून में 10 नवंबर से 7 फरवरी 2020 तक ट्रेनों का संचालन ठप होने वाला है। इसकी वजह भी जान लें। देहरादून में प्लेटफार्म विस्तारीकरण का काम चल रहा है। जिसकी वजह से ट्रेनों की आवाजाही को कुछ वक्त के लिए रोका जाएगा। निर्माण कार्य की वजह से ट्रेनों का संचालन नहीं होगा। ठेकेदार की तरफ से मिली जानकारी के बाद रेलवे अधिकारियों ने ट्रैफिक ब्लॉक का प्रस्ताव बना दिया है। प्रस्तावित शेड्यूल को रेलवे बोर्ड के पास भेजा गया है। बता दें कि इन दिनों दून रेलवे स्टेशन में पांच नंबर प्लेटफार्म का ट्रैक तैयार हो रहा है। स्टेशन का विस्तार किया जा रहा है। फिलहाल दून स्टेशन में 4 प्लेटफार्म हैं। अब चार नंबर प्लेटफार्म के सामने ही पांचवा प्लेटफार्म बनाया जा रहा है। प्लेटफार्म निर्माण का काम दो साल पहले शुरू हुआ था। पर दिसंबर 2018 में निर्माण कार्य अचानक रुक गया। बाद में नए ठेकेदार को टेंडर दिया गया, अब निर्माण कार्य दोबारा शुरू हो गया है। यार्ड का विस्तार करने, नया ट्रैक तैयार करने और उसे मुख्य ट्रैक से कनेक्ट करने के लिए ट्रेनों का संचालन बंद करना पड़ेगा। ठेकेदार ने 10 नवंबर 2019 से 7 फरवरी 2020 तक का वक्त मांगा है। प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेज दिया गया है। प्रस्ताव के मुताबिक कुछ ट्रेनों को पूरी तरह रद्द रखा जाएगा। जबकि कुछ ट्रेनें देहरादून की बजाय हरिद्वार और नजीबाबाद से संचालित होंगी। ट्रैफिक ब्लॉक का शेड्यूल फाइनल होते ही यात्रियों को इस बारे में सूचना दे दी जाएगी। आपको बता दें कि देहरादून से हर दिन 18 ट्रेनों का संचालन होता है। जिनमें हर दिन 10 हजार यात्री सफर करते हैं। ऐसे में ट्रेन सेवा रद्द होने से हजारों यात्रियो को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। नजीबाबाद के साथ-साथ हरिद्वार और हर्रावाला रेलवे स्टेशनों पर भी दबाव बढ़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *