चुनाव के नतीजे 21 अक्टूबर को।

Spread the love

पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिए प्रत्याशियों को 29 सितंबर को चुनाव चिन्ह दिए जाएंगे। मतदान 6 अक्टूबर को होगा। दूसरे चरण के चुनाव के लिए 4 अक्टूबर को चुनाव चिन्ह दिए जाएंगे, दूसरे चरण का मतदान 11 अक्टूबर को होना है। इसी तरह तीसरे चरण के लिए प्रत्याशियों को 09 अक्टूबर को चुनाव चिन्ह दिए जाएंगे, तीसरे चरण का मतदान 16 अक्टूबर को होगा। पंचायत चुनाव के पहले चरण में अल्मोड़ा, चंपावत,ऊधमसिंहनगर, नैनीताल,  पिथौरागढ़,  , बागेश्वर, देहरादून, चमोली, रुद्रप्रयाग और पौड़ी की पंचायतों में चुनाव होगा। दूसरे चरण में ऊधमसिंहनगर, अल्मोड़ा, चंपावत, बागेश्वर, नैनीताल, उत्तरकाशी, टिहरी, देहरादून, रुद्रप्रयाग, पौड़ी में चुनाव होने हैं। तीसरे चरण का मतदान नैनीताल, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, ऊधमसिंहनगर,  बागेष्वर , उत्तराकाशी, टिहरी और देहरादून में होगा। चुनाव की डेट सामने आते ही राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं। प्रदेश में तीन चरणों में चुनाव होंगे। पहले चरण का चुनाव 6 अक्टूबर को होगा, दूसरे चरण का मतदान 11 अक्टूबर को होगा। जबकि 16 अक्टूबर को चुनाव का तीसरा चरण संपन्न होगा। चुनाव के नतीजे 21 अक्टूबर को घोषित होंगे। पहली बार दो खास नियम शामिल किए गए हैं। दो से ज्यादा बच्चों वाले दावेदार चुनाव नहीं लड़ेंगे। सिर्फ दो या एक बच्चे वाले दावेदार ही चुनाव लड़ पाएंगे। इसके अलावा, विभिन्न पदों के लिए पहली बार उम्मीदवारों के लिए शैक्षिक योग्यता भी निर्धारित कर दी गई है। कुछ पदों के लिए आठवीं तो कुछ के लिए दसवीं पास होना अनिवार्य होगा। चुनाव की तारीख का ऐलान होने के साथ ही प्रदेश में  आदर्श अचार संहिता लागू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्रशेखर भट्ट ने इस संबंध में अधिसूचना जारी की।  हरिद्धा जिले को छोड़कर प्रदेश के सभी 12 जिलों में पंचायत चुनाव होने हैं। चुनाव का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार मतदान प्रक्रिया 20 सितंबर से शुरू होगी। प्रत्याशी अपना नामांकन दाखिल कर सकेंगे। नामांकन पत्रों की जांच 25 सितंबर को होगी। जो प्रत्याशी नामांकन वापिस लेना चाहते हैं, वो 28 सितंबर को नाम वापसी कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *