प्रशिक्षण रद्द,श्रमिक मंत्र का हुआ असर।

Spread the love

हरिद्धार जिले में प्रशिक्षण हुआ रद्द,श्रमिक मंत्र खबर का हुआ असर।

जिस प्रकार से  हरिद्धार जिला अधिकारी सी रवि शंकर के द्वारा पिछले 29 मार्च 2020 से जनपद हरिद्धार में कोविड -19 जैसे जानलेवा व घातक महामारी की रोकथाम के लिए हरिदवार जनपद के इंटर कॉलेज सही 29 विभागीय कार्मिकों को प्रशिक्षण के लिए अलग अलग बनाये गए प्रशिक्षण केंद्रों पर बुलाया गया था। और जिलाधिकारी द्वारा यह तर्क दिया गया की वह प्रधान मंत्री के दिशा निर्देश के अनुरूप सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रशिक्षण दिया जाएगा। और इससे लोग प्रशिक्षण देने व लेने वाले लोग भी सुरक्षित महसूस करेंगे। जिलाधिकारी महोदय की इस सुरक्षित प्रशिक्षण देने की बात को खंडन करते हुए श्रमिक मंत्र ने इस खबर को प्रमुखता से दिखाया और यह बताया कि यदि जिलाधिकारी की सोशल डिसेंसिंग से प्रशिक्षण दिए जाने की पहल सही है तो फिर ऐसे ही सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर विभागों व शिक्षण संस्थानों को  संचालित करा जा सकता था। तो फिर राज्य सरकार द्वारा आगामी 14 अप्रैल तक कार्यमुक्त कर उन्हें अपने आपने घरों में ही रहने के लिए आदेश देने की क्या जरूर थी। एक बार में अपने श्रमिक मंत्र दर्शकों को बता दूँ कि श्रमिक मंत्र किसी भी प्रशिक्षण व जागरूक करने के विरोध में आवाज़ नहीं उठायी है। बल्कि श्रमिक मंत्र आज भी प्रशिक्षण डव जागरूकता करने के पक्षधर है। हमारा सबाल सिर्फ यह था कि यदि यही प्रशिक्षण आज के टेक्नोलॉजी जमाने के अनुसार कई माध्यमों से दिए जा सकते थे। तो फिर ट्रैनिंग देने व लेने के लिए हरिद्वार जनपद के हज़ारो परिवारों को जान जोखिम में देकर प्रशिक्षण देने की क्या जरुरत थी। आईये हम आपको एक बार फिर से सुनवाते है प्रशिक्षण देने वाले प्रभारी की पड़ेशानी उन्ही की जुबानी ।परन्तु श्रमिक मंत्र ने अपने इस जान जोखिम देने वाले प्रशिक्षण का अभियान अपने चैनल के माध्यम से लगातार चलता रहा। और अपनी बात पहुंचाने के लिए संबंधित अधिकारीयों सहित कई मंत्रियों को भी अवगत करवाया। और श्रमिक मंत्र न्यूज़ को सभी लोगो ने श्रमिक मंत्र के इस अभियान की सराहनीय कदम बताया। प्राप्त सूत्रों के अनुसार अब जनपद हरिद्वार में पिछले 29 मार्च से चलने वाला प्रशिक्षण को जिलाधिकारी द्वारा रद्द कर दी गयी है। श्रमिक मंत्र जिलाधिकारी सहित सभी मंत्रीगणों का भी आभार प्रकट करती है कि आपने श्रमिक मंत्र की खबर को गंभीरता से लिया और हमारे खबर को सही पहल बताया। श्रमिक मंत्र अपने सभी लाखों दर्शकों का धन्यवाद करता है कि आपने श्रमिक मंत्र इस अभियान में भरपूर सहोयोग प्रदान किया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *