कुमकुम बनीं न्यूजीलैंड की उच्चायुक्त।

Spread the love

कुमकुम  भुवनेश्वर महिला आश्रम नाम के एनजीओ से जुड़ी हैं। इस एनजीओ से जुड़ी 34 लड़कियों को अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई थीं। कुमकुम को नूजीलैंड के उच्चायुक्त की जिम्मेदारी मिली। कुमकुम के पिता विपिन पंत शिक्षक हैं, माता पूनम पंत गृहणी है। दिल्ली से लौटी कुमकुम पंत ने अपने अनुभव को शानदार बताया। वो जीव विज्ञान की प्रोफेसर बनना चाहती हैं। कुमकुम ने कहा कि बतौर उच्चायुक्त मेरा फोकस लैंगिक समानता पर रहा। इस अवसर को पाकर मैं खुद को गौरवान्वित महसूस कर रही हूं।   पौड़ी के सुदूरवर्ती गांव की बेटी कुमकुम को एक दिन के लिए न्यूजीलैंड की उच्चायुक्त बनने का मौका मिला। कुमकुम के लिए ये दिन बेहद खास था। बतौर उच्चायुक्त कुमकुम ने दूतावास के अधिकारियों संग बैठक की, दुनिया में लैंगिक समानता को लेकर मंथन किया। 11 अक्टूबर के दिन को वैश्विक तौर पर अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के तौर पर मनाया जाता है। इस साल अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर पौड़ी की कुमकुम को एक दिन के लिए न्यूजीलैंड का उच्चायुक्त बनाया गया। 11 अक्टूबर को कुमकुम सुबह 9 बजे नई दिल्ली स्थित  नूजीलैंड  के उच्चायोग पहुंची और कार्यभार ग्रहण किया। उन्होंने उच्चायोग के अधिकारियों-कर्मचारियों से मुलाकात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *