ताला टूट गया, शेर हमारा छूट गया।

Spread the love

जेल का ताला टूट गया,शेर हमारा छूट गया।
कानपुर,शनिवार को विकास दुबे का चौथा वीडियो वायरल हुआ था। इस बार वह लोगों को दंगल के लिए खुलेआम चुनौती देते दिख रहा है। वह बोल रहा है कि दंगल हांक दिया है हमने,अगर कोई लड़ने वाला पहलवान हो तो बताओ। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि गांव में उसका रुतबा किस कदर था। विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद अभी भी पुलिस को उसके 11 साथियों की तलाश है। इस बीच विकास दुबे के आतंक से जुड़े कोई ना कोई वीडियो वायरल हो रहे हैं। मंगलवार को विकास दुबे का पांचवां वीडियो वायरल हुआ। इसमें उसके दबंंगई साफ छलकती है। वायरल वीडियो उस समय का है जब एक मामले में विकास दुबे जेल से छूटकर बाहर आया था और उसके स्वागत में उसके काफी समर्थक जुटे थे। नेताओं की तरह सफेद कुर्ता पैजामा पहने स्वागत के लिए आए बुर्जर्गों का पैर भी छूकर आशीर्वाद भी ले रहा है। तभी नारा लगता है,जेल का ताला टूट गया,शेर हमारा छूट गया। कानपुर के बिकरू गांव आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद एफआईआर में विकास दुबे के अलावा अमर दुबे, अतुल दुबे, प्रेम कुमार, प्रभात मिश्रा, बउवा, हीरू, शिवम, जिलेदार, राम सिंह, उमेश चन्द्र, गोपाल सैनी, अखिलेश मिश्रा, विपुल, श्यामू बाजपेई, राजेन्द्र मिश्रा, बाल गोविंद, दयाशंकर अग्निहोत्री शामिल थे। जिसमें अब तक पुलिस विकास दुबे, अमर, अतुल, प्रेम कुमार, प्रभात और बउआ को मुठभेड़ में मार गिराया है। जो बचे हुए अपराधी है उनकी तलाश में एसटीएफ ने बीते दिनों कानपुर देहात, औरैया और झांसी में एक साथ दबिश ऑपरेशन चलाया था। जिसमें एक दर्जन लोगों को उठाकर पूछताछ की मगर उनसे कुछ नहीं मिला। सात लोगों को फिलहाल छोड़ दिया गया है। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद जय ने अपनी लग्जरी कारों से विकास और उसके गैंग के सदस्यों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने का जिम्मा लिया था। इटावा में मुठभेड़ में मारा गया बउआ का आर्यनगर निवासी जीजा प्रशांत उर्फ डब्लू भी साजिश में शामिल था। घटना के बाद शहर में नाकेबंदी के चलते दोनों विकास तक पहुंच नहीं सके और इससे पहले ही जय के घर पुलिस का छापा पड़ गया। लावारिस खड़ी तीनों कारों को भी बरामद कर लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *